18 Famous Food of Karnataka In Hindi | कर्नाटक के 18 प्रसिद्ध भोजन के नाम हिंदी में 

कर्नाटक के प्रसिद्ध भोजन में मुख्य रूप से नारियल और चावल पर आधारित होते हैं ।

जबकि, उत्तर कर्नाटक के  व्यंजन मुख्य रूप से शाकाहारी होते हैं ।

वहीं रागी, को  दक्षिण कर्नाटक काफ़ी पसंद किया जाता है ।

मैंगलोर भोजन में मांसाहारी भोजन, यानी चिकन मांस शामिल है।

तटीय क्षेत्र होने के कारण, मछली मैंगलोर का मुख्य भोजन है।

उडुपी अपने शाकाहारी व्यंजन के लिए  बहुत लोकप्रिय है। 

कर्नाटक के प्रसिद्ध भोजन  के नाम हिंदी में 

1. नीर दोसा

नीर डोसा कर्नाटक का प्रसिद्ध भोजन है। “नीर” का हिंदी अर्थ पानी होता है । इसे बनाने के लिए जिस घोल का प्रयोग किया जाता है वह बहुत पानी जैसा होता है इसलिए इसे नीर डोसा कहा जाता है|  नीर डोसा बहुत ही मुलायम और पतला होता है। यह बहुत ही सरल और हल्का भोजन है । घोल के लिए भीगे हुए चावल को पीस कर उसमें पानी मिला दिया जाता है. किण्वन (fermentation ) की आवश्यकता नहीं होती है। नीर डोसा को चटनी या करी के साथ परोसा जाता है

2. कोरी गासी

यह कर्नाटक के खाने की मशहूर नॉन-वेज व्यंजन है। कोरी अर्थ है चिकन और गस्सी का अर्थ “करी ” होता हैं। यह एक मैंग्लोरियन (Manglore) व्यंजनों में  से एक स्वादिष्ट  “चिकन करी”  डिश  है। यह चिकन के टुकड़ों के साथ एक गाढ़ी ग्रेवी वाली डिश है। इसे नारियल और अन्य मसालों के साथ पकाया जाता है। यह मैंग्लोरियन चिकन करी के नाम से भी प्रसिद्ध है। कोरी गस्सी को नीर डोसा या रोटी या चावल के साथ परोसा जाता है।

3. कुंदपुरा कोली सारू

“कुंडापुर कोली सारू” या “कुंडापुर चिकन करी” -यह मैंगलोर  की एक और प्रसिद्ध चिकन करी डिश है। यह तटीय क्षेत्र का लोकप्रिय कर्नाटक भोजन है। नारियल आधारित चिकन ग्रेवी डिश। इसकी  करी नारियल के दूध, प्याज लहसुन और अन्य मसालों के साथ बनाई जाती है।देगा. इसे रोटी या चावल के साथ  खाया जाता है।  इसे नीर डोसा  साथ भी काफी पसंद किया जाता है। 

4. मैसूर मसाला डोसा

डोसा भारत में सबसे लोकप्रिय स्नैक है। आप इसे एक पतला पैनकेक भी कह सकते हैं । मैसूर मसाला डोसा, डोसा का एक विशेष संस्करण है। मुख्य रूप से  डोसा उड़द की दाल और चावल के घोल से तैयार किया जाता है, जिसमें मिक्स प्याज और आलू की स्टफिंग होती है। जबकि मैसूर मसाला डोसा के मामले में इसमें एक विशेष लाल चटनी लगाई जाती है। जो इसे स्पेशल बनती है।  इस स्वादिष्ट डोसे को नारियल की चटनी और सांबर के साथ गरमा-गरम परोसा जाता है।

5. कूर्ग पांडी करी- Coorg Style Spicy Pork 

यह कर्नाटक का एक मांसाहारी व्यंजन है । इसे “कूर्गी पोर्क”  और “कोडवा स्टाइल पोर्क” के नाम से भी जाना जाता है। पोर्क को स्थानीय शब्दों में पांडी कहते हैं। यह “पोर्क करी व्यंजन थोड़ा मसालेदार होता है । अलग स्वाद के लिए इस डिश में एक खास फल का इस्तेमाल किया जाता है। स्थानीय रूप से उगाए जाने वाले इस फल को “कचुमपुली”  के नाम से जाना जाता है जो पकवान को खट्टा स्वाद देता है। पंडी करी को चावल या रोटी के साथ गरमागरम परोसा जाता है।

6. बीसी बेले बाथ

कर्नाटक भोजन की सूची में एक और स्वादिष्ट भोजन है बीसी बेले बाथ। कुछ लोगों के द्वारा  इसे “बीसी बेले हुलियाना ” भी कहा जाता है । यह पारंपरिक कर्नाटक भोजन है। यह उन लोगों के लिए विशेष भोजन है जो प्याज और लहसुन नहीं खाते हैं। यह चावल पर आधारित एक लोकप्रिय व्यंजन है। चावल, दाल, मिली-जुली सब्जी और एक विशेष मसाला पाउडर जिसे “बीसी बेले बाथ पाउडर” कहते हैं, से तैयार किया जाता है।

7. केन रवा फ्राई

“केन रवा फ्राई” या “फ्राइड भिंडी” मंगलोरियन व्यंजनों के पारंपरिक भोजन में से एक है। यह मैंगलोर के हर एक रेस्टोरेंट में आसानी से उपलब्ध हो जाता है। रवा जिसे  देश के कुछ हिस्सों में  “सूजी” भी कहा जाता है। भिंडी को सूजी से बने एक विशेष पेस्ट के साथ मैरीनेट किया जाता है।  और मिर्च और अन्य मसालों के साथ मिक्स भी किया जाता हैं। फिर, लेपित (मैरिनेटेड) मछली  को तेल में  तला जाता है।  सूजी के लेप के कारण मछली को बाहर से कुरकुरा हो जाता है।  इसे नेकेड फ्राई भी कहा जाता है। कर्नाटक के इस मशहूर खाने को चावल के साथ गर्मागर्म परोसा जाता है। 

8. मैसूर पाक

मैसूर पाक कर्नाटक की एक प्रसिद्ध मिठाई है। यह मीठा व्यंजन पूरे भारत में काफी लोकप्रिय है। मैसूर पाक बेसन, घी, इलायची और चीनी से बना एक सुपर स्वादिष्ट व्यंजन है। इस व्यंजन का आविष्कार मैसूर में हुआ है। “पाक” शब्द चीनी सिरप को संदर्भित करता है। कर्नाटक का यह क्लासिक पारंपरिक भोजन बहुत नरम है और आसानी से आपके मुंह में पिघल जाता है। घी का अद्भुत स्वाद आपकी आत्मा को स्वर्गीय स्वाद देता है।

9. हलबाई

हलबाई कर्नाटक की एक और प्रसिद्ध मिठाई है। यह कर्नाटक की एक प्रामाणिक और पारंपरिक मिठाई है। यह व्यंजन चावल, नारियल और गुड़ से बनाया जाता है। नारियल के दूध का उपयोग इसमें एक अलग स्वाद देने के लिए भी किया जाता है। यह स्वस्थ और स्वादिष्ट मिठाई उडुपी और मैंगलोर क्षेत्र में बहुत प्रसिद्ध है। यह बहुत ही सरल है और सभी त्योहारों के मौसम में घर में तैयार किया जाता है। इसे सामान्यता ठंडा खाया जाता है।

10. रवा केसरी

कर्नाटक की एक और मीठी डिश। इसे केसरी बाथ के नाम से भी जाना जाता है। रवा केसरी,रवा (सूजी) पर आधारित मिठाई है। यह डेज़र्ट रवा, घी, सूखे मेवे और केसर से तैयार किया जाता है। यह  स्वादिष्ट व्यंजन बनाने में बहुत ही आसान है।

11. सागु

सागु कर्नाटक का मिक्स्ड वेजिटेबल रेसिपी है। जो पूरे कर्नाटक में  बहुत प्रसिद्ध  है। यह पकवान सब्जी करी का ही एक रूप है जिसे  डोसा, रोटी, चावल, इडली  के साथ परोसा जाता है। सागू नारियल और खसरे के बीज से तैयार किया जाता है। इसेआलू इस साथ भी बनाया जाता है , जिसे आलू सागू कहते है। 

12. मैसूर बोंडा

मैसूर बोंडा कर्नाटका का प्रसिद्ध स्नैक्स है। इसे मैसूर भाजी के नाम से भी जाना जाता है। यह एक तला हुए नाश्ते का एक रूप है। यह मैदा और दही  उरद दाल का उपयोग करके भी तैयार किया जाता हैं। जिसे नारियल की चटनी और साथ ही साथ सांभर से भी खाया जाता है। ये बोंडा तेलंगाना और कर्नाटक में लोकप्रिय काफी हैं। “गोली बाजे” भी इसी तरह से बनाया गया है। 

13. चिरोटी रेसिपी | पाधीर पेनी 

यह कर्नाटक  की काफी लोकप्रिय मिठाई है। यह  परतदार मिठाई  सूजी और पाउडर चीनी से बनाई जाती है। यह पारम्परिक दक्षिण भारतीय मिठाइयों में से एक माना जाता है। यह एक स्पेशल डिश है जिसे  खास अवसरों और समारोहों में इसे विशेष रूप से बनाया जाता है। यह खास डिश बादाम के दूध और पाउडर चीनी के साथ  परोसा जाता है।

14. मद्दुर वड़ा 

मद्दुर एक प्रसिद्ध, शहर है जो  बैंगलोर और मैसूर के बीच स्थित है।

मद्दुर वड़ा कर्नाटक व्यंजनों में एक  मशहूर नाश्ता है।  इसे नारियल की चटनी और एक गर्म कप फिल्टर कॉफी के साथ खाया जाता है.  यस रेसिपी कर्नाटक के मांड्या जिले के मद्दुर नामक शहर से उत्पन्न एक बहुत ही लोकप्रिय डिश  है। 

आमतौर पर यह सूजी, चावल के आटे और पूरे गेहूं के आटे से बनाया जाता है।  साथ ही कुछ करी पत्ते, प्याज और हरी मिर्च  स्वाद और मसालों इस्तेमाल स्वाद बढ़ाने के लिए होता है। आटे को हाथ से शेप दिया जाता  है और डीप फ्राई करके इसे तैयार किया जाता है। 

15. पोरी उरुंडई 

पोरी उरुंडई  दक्षिण भारत की एक पारंपरिक मिठाई है जिसे हम कार्तिगई दीपम के लिए बनाया जाता हैं। असल में  एक यह मीठा नाश्ता है।  दूसरे शब्दों में यह  मुरमुरे और गुड़ से बना एक लड्डू हैं। पोरी उरुंडई को मुरमुरा के लड्डू या मुरमुरा के गुड़ के गोले भी कहा जाता है।

मुरमुरे एक बहुत ही स्वस्थ  नाश्ता है। इसलिए इसे लोग बनाकर और स्टोर कर भी रखते  हैं।

16. थट्टे इडली रेसिपी | तत्त इडली या प्लेट इडली | 

यह कर्नाटक व्यंजनों की एक लोकप्रिय इडली वैरिएंट रेसिपी। यह पारंपरिक इडली की तुलना में  आकार में बड़ी होती हैं। यह बैंगलोर, मैसूर क्षेत्र में बेहद लोकप्रिय है और आमतौर कर्नाटक के हर घर पर सुबह का एक नियमित नाश्ता है। जो की  बनाने में बहुत आसान और झटपट बन जाता है। 

चावल का घोल पहले इस तैयार कर लिया  जाता है.  फिर बैटर को फिर सांचों में डाला कर नरम होने तक स्टीम किया जाता है। इस गरमा गरम इडली को सांभर या चटनी के साथ परोसा जाता है।

17. चित्रन्ना | निम्मकाया पुलिहोरा | लेमन राइस

चित्रन्ना या निम्मकाया पुलिहोरा जिसे लेमन राइस  के नाम से भी जाना जाता है, यह एक  स्वादिष्ट और चटपटे व्यंजन हैं।  यह एक कर्नाटक शैली का लेमन राइस है जो पके हुए चावल को ताज़े नींबू, मिर्च और अन्य मसालों से बने एक विशेष गोज्जू के साथ मिलाकर तैयार किया जाता है। अगर आप चावल व्यंजनों

में वेरिएशन देखना चाहते है तो चित्रन्ना  उनमे से एक है।  नींबू का रस, तले हुए मेवे, सुगंधित जड़ी-बूटियाँ और मसाले इसे  एक अद्भुत मसालेदार, चटपटा और पौष्टिक बनाते है।  ये बनाने में आसान और स्वाद में बहुत अच्छे होते हैं।

18. एनेगायी रेसिपी | बदनेकाई येनेगाई | भरवां बैंगन

यह एक शाकाहारी डिश है। अगर आप को भरवां बैंगन  पसंद है तो आप को इस लोकप्रिय उत्तर कर्नाटक  के व्यंजन को जरूर खाना चाहिए । यह भरवां बैंगन अपने गाढ़े और मसालेदार नारियल आधारित ग्रेवी के लिए जाना जाता है. लेकिन इसे चावल ,चपात और  गेहूं की रोटी के साथ  परोसा जाता है।

19. बेरी बिरयानी

बेरी शब्द की व्युत्पत्ति ‘ब्यारा’ शब्द से हुई है, जिसका अर्थ व्यापार या व्यवसाय होता है।  यह बिरयानी व्यापारियों और व्यापारियों द्वारा बिरयानी पकाते समय बहुत सारी हरी मिर्च और नारियल का उपयोग करके बनाई गई थी। बेरी समुदाय दक्षिण भारतीय राज्य कर्नाटक के एक जिले, तटीय दक्षिण कन्नड़ में बेरी मुस्लिम समुदाय के लोग  है।  बेरी बिरयानी अन्य प्रकार की बिरयानी से स्वाद में बहुत अलग होती है।

कर्नाटक देश के सबसे बड़े राज्यों में से एक है। और यहाँ का भोजन बहुत विविध है। कर्नाटक के व्यंजनों को उत्तरी कर्नाटक व्यंजन, दक्षिण कर्नाटक व्यंजन, मंगलोरियन व्यंजन, कूर्ग व्यंजन, उडुपी व्यंजन, सारस्वत व्यंजन, नवयथ व्यंजन में विभाजित किया जा सकता है। कर्नाटक भोजन में स्वादिष्ट वेज और नॉन-वेज व्यंजनों की एक विस्तृत श्रृंखला है।

Spread the love

Leave a Comment